केतु ग्रह के उपाय

केतु ग्रह के अशुभ फल में सुधार हेतु उपाय करने हेतु शनिवार एवं मंगलवार का दिन और रात का समय  सबसे उपयुक्त होता है। जिनका केतु कुंडली मैं शुभ स्तिथि मैं नहीं है उन्हें शनिवार एवं मंगलवार के दिन व्रत करना चाहिए और गरीब व्यक्ति को भर पेट भोजन कराना चाहिए।

केतु ग्रह के उपाय

  • गणेश जी की सेवा और पूजा करे
  • गणेश द्वादश नाम स्तोत्र का पाठ करें।
  • केतु के मूल मंत्र का रात्रि में 40 दिन में 18,000 बार जप करें।
  • कपिला गाय, लोहा, तिल, तेल, सप्तधान्य शस्त्र, बकरा, नारियल, उड़द आदि का दान करने से केतु ग्रह की शांति होती है।
  • केतु से सम्बन्धित रत्न का दान (लहसुनिया)भी उत्तम होता है।
  • मंदिर में काले और सफेद रंग का कम्बल  दान करना चाहिए।
  • कुत्ते को मीठी रोटी दें एवं ब्राह्मणों को भात खिलायें इससे भी केतु की दशा शांत होगी।
  • किसी को अपने मन की बात नहीं बताएं
  • बड़े बुजुर्गों की सेवा करने से भी केतु की दशा में राहत प्रदान होती है।

केतु ग्रह के उपाय शनिवार एवं मंगलवार के दिन पूरी श्रद्धा और भक्ति के साथ करना चाहिए तो केतु ग्रह के अशुभ फल से मुक्ति मिलती हैं

Ketu Mantra | केतु मंत्र

Ketu Kavach | केतु कवच

श्री गणेश द्वादश नाम स्तोत्र

Print Friendly, PDF & Email
(Visited 863 times, 10 visits today)
Translate »